क्या आप अंदाजा लगा सकते है की आज के इस आधुनिक युग में कोई हमारे देश भारत को “गरीब” और पिछड़ा हुआ देश भी कह सकता है जबकि इस देश के लोग (चाहे वो नवयुवक हो या उम्रदार) हर तरह की नयी तकनीकी को adopt करने और उस टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करने में किसी भी देश से पीछे नहीं है |

जी हा अभी हाल में ही एक ऐसा वाकया सामने आया है जिसमे Snapchat कंपनी के पूर्व कर्मचारी ने आरोप लगाया है कि Snapchat के सीईओ Evan Spiegel ने हमारे देश के लिए कुछ ऐसा ही शर्मनाक बयान दिया है | Snapchat के पूर्व कर्मचारी Anthony Pompliano के मुताबिक 2015 में User Groth की एक मीटिंग में सीईओ Evan Spiegel भारत के खिलाफ कुछ ऐसे ही शब्दों का प्रयोग किया |

मीटिंग के दौरान जब Snapchat के प्रीमियम Users के बात पर चर्चा हो रही थी तब Evan Spiegel ने कहा की ये एप्लीकेशन केवल अमीर लोगो के लिए है और मई इसे गरीब देशो जैसे की भारत और स्पेन में नहीं बढ़ाना चाहता |

Anthony Pompliano के मुताबिक Evan Spiegel ने कहा कि –

“This app is only for rich people. I don’t want to expand into poor countries like India and Spain.”


गौरतलब है की Anthony Pompliano ने Snapchat पर users data के आकड़ो में छेड़छाड़ को लेकर इन्वेस्टर्स को गुमराह करने के लिए मुकदमा किया था उनका आरोप था की 2015 में Snapchat पर 95 मिलियन एक्टिव users थे जिसे Snapchat ने इन्वेस्टर्स को 100 मिलियन users प्रतिदिन के हिसाब से दिखाया था |

आपकी जानकारी के लिए बता दे की Snapchat ने यूजर बेस को बढ़ाने के लिए Anthony Pompliano को hire किया था लेकिन केवल 1 से 4% यूजर बेस बढ़ने से Anthony के परफॉरमेंस से नाखुश कंपनी ने उन्हें बहार का रास्ता दिखा दिया था

लेकिन सीईओ Evan Spiegel के इस बयान से भारतीय बहुत अपमानजनक महसूस कर रहे है और उन्होंने Twitter पर #Boycottsnapchat और #Unistallsnapchat का trend शुरू कर दिया है |

https://twitter.com/_MeSumiT_/status/853296162916401152

फ़िलहाल केस कोर्ट में है और देखते है की कोर्ट अपना क्या फैसला सुनाती है, आपको क्या लगता है कि पूर्व कर्मचारी के द्वारा लगाए गए आरोप किस हद तक सही है सही है भी या नहीं ? अपनी राय कमेंट सेक्शन में हमें जरूर बताये |